Wednesday 2 August 2017

इन दिनों फेसबुक पर कुछ नहीं लिख पा रहा।   कोशिश कर रहा हूँ कि  अब कुछ लेख वेख लिखूं.  यह कोई  आसान काम नहीं है. एक बार फेसबुक पर चटपट लिखकर, लोगों  के लाइक्स और कमेंट्स बटोर लेने की आदत पड़ जाने  के बाद उसे छोड़कर लिखने की ओर  जाना कठिन  है.   कोशिश  कर रहा हूँ.
हो सकता है ब्लॉग   पर फिर से लिखना शुरु  करना एक नए समय की शुरुआत हो !  

No comments:

Post a Comment