Thursday, 20 August, 2009

जिन्ना के बारे में भ्रम

जिन्ना साहब एक खांटी एलिट थे. अपने पूरे राजनैतिक जीवन में एक बार किसी सभा में उनके शरीर पर ह्ल्का सा धक्का लगा था. इतिहासकार अमलेन्दु दे बताते हैं कि वे चर्चिल से किसी बिचौलिए के माध्यम से सम्पर्क में बने रहे. वे किस तरह के व्यक्ति थे इसके लिए एक बात का उल्लेख किया जा सकता है. उनके एक करीबी दोस्त थे जिसकी 17-18 साल की बेटी (जिन्ना की उम्र से तिहाई की) थी. जिन्ना ने दोस्ती की परवाह न करते हुए उससे विवाह किया क्योंकि यह प्रेम का मामला था. जब खुद उनकी बेटी ने अपना प्रेम विवाह करना चाहा तो कट्टर बाप की तरह उसे घर से निकाला और अंत तक उसका मुंह नहीं देखा. यह एक मिसाल है. इस तरह के तमाम उदाहरण वोलपर्ट की पुस्तक में मिल सकते हैं जो यह बतलाने के लिए पर्याप्त हैं कि जिन्ना गांधी जैसे व्यक्तियों की तुलना में अनुदार और अहंकारी किस्म के व्यक्ति थे.

No comments:

Post a Comment